उत्तराखंडराजकाज

Uttarakhand: सीएम ने हरिद्वार में की विकास कार्यों की समीक्षा

सांसद रमेश पोखरियाल भी रहे मौजूद, अधिकारियों को दिए निर्देश

CM Dhami In Haridwar : हरिद्वार। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने रविवार को हरिद्वार भ्रमण के दौरान डामकोठी में अधिकारियों के साथ विकास कार्यों कर समीक्षा की। इस दौरान सीएम ने जिलाधिकारी से विकास योजनाओं की प्रगति जानीं और आवश्यक दिशानिर्देश दिए। कहा, जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए।

इस दौरान सीएम ने कहा, समय-समय पर ग्रामसभाओं में चौपालों का आयोजन किया जाए। ग्रामीणों की समस्याओं का निस्तारण शीर्ष प्राथमिकता पर किया जाए। गर्मी के मौसम में बिजली, पानी आदि पर विशेष ध्यान दिया जाए। कहा, सब्सिडी की योजनाओं का लाभ समय पर लाभार्थी को दिलाना सुनिश्चित करें। साथ ही कार्डधारकों को समय पर राशन का वितरण होना चाहिएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरिद्वार चारधाम यात्रा का प्रमुख पड़ाव है। लिहाजा,यहां हर तरह की व्यवस्थाएं खासतौर पर हरिद्वार शहर और गंगा के घाटों की साफ-सफाई की व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाए। यातायात व्यवस्था पर जिलाधिकारी विनय शंकर पांडये ने बताया कि चारधाम यात्रा के दौरान दुधाधारी व अन्य स्थानों पर जाम की स्थिति न बने, इसके लिए वैकल्पिक योजनाओं, भारी वाहनों की नो इंट्री का समय निर्धारण, पार्किंग व्यवस्था आदि पर काम शुरू कर दिया गया है।

कानून-व्यवस्था पर डीएम विनय शंकर पांडये और एसएसपी अजय सिंह ने सीएम को अवगत कराया कि जनपद में कानून-व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त है। इसके अलावा नकल विहीन भर्ती परीक्षाओं के आयोजन के लिए कड़े कदम उठाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने बैठक में जमीन संबंधी प्रकरण आदि पर भी विस्तृत चर्चा और दिशा-निर्देश दिए।

मौके पर रानीपुर विधायक आदेश चौहान, जिला पंचायत अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह, पूर्व विधायक लक्सर संजय गुप्ता, भाजपा जिलाध्यक्ष संदीप गोयल, महामंत्री आशू चैधरी, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. जयपाल सिंह चौहान, सांसद प्रतिनिधि ओम प्रकाश जमदग्नि, पूर्व मेयर मनोज गर्ग, लव शर्मा, मनोज गौतम, अनिल अरोड़ा, आशुतोष शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) बीर सिंह बुदियाल, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) पीएल शाह, एसडीएम पूरण सिंह राणा, एमएनए दयानंद सरस्वती, भूमि अध्याप्ति अधिकारी ब्रजेश तिवारी आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button