उत्तराखंडऋषिकेश न्यूज

‘अंकिता को न्याय’ के समर्थन में ऋषिकेश पहुंचे ‘प्रीतम सिंह’

महिलाएं पहुंची मंत्री के घर, मेयर से हुई मुलाकात, 5 लोगां का अनशन 5वें दिन भी जारी

• संस्कृत छात्र समिति और रेड राइडर्स ने दिया आंदोलन को अपना समर्थन

Ankita Bhandari Case: ऋषिकेश। अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर युवा संघर्ष समिति का आंदोलन 50वें दिन भी जारी रहा। आज आंदोलन के समर्थन में धरनास्थल पर पहुंचे कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि हम मिलकर बेटी अंकिता को न्याय दिलाकर रहेंगे। उधर, कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से मिलने उनके आवास पर पहुंची महिलाएं गेट न खुलने पर नारेबाजी के बाद वापस लौटी। इसके बाद उन्होंने मेयर अनिता ममगाईं से भी मुलाकात की। धरनास्थल पर समिति के पांच लोगों का आमरण अनशन पांचवें दिन भी जारी रहा।

गुरुवार शाम कांग्रेस नेता और चकरात विधायक प्रीतम सिंह कोयलघाटी स्थित युवा न्याय संघर्ष समिति के धरनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि अंकिता को न्याय दिलाने की चिंगारी ऋषिकेश से जल चुकी है, जिसे हम न्याय मिलने तक बुझने नहीं देंगे। कहा कि हमने सदन में बेटी अंकिता को न्याय दिलाने की मांग रखी, तो सरकार में बैठे लोगों ने सदन को भंग कर यह साबित कर दिया कि यह पूरी सरकार दोषियों को बचाने का काम कर रही है। उन्होंने अपने संबोधन में विधानसभा बैकडोर भर्ती घोटाले का जिक्र भी किया।

आमरण अनशन रहा जारी
अंकिता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर कांग्रेस नेता जयेन्द्र रमोला, शिक्षाविद संजय सिल्सवाल, वंदेमातरम ग्रुप के जितेन्द्र पाल पाठी, भाजपा किसान मोर्चा के मंडल अध्यक्ष यशवन्त रावत और युवा सूरज कुकरेती का बेमियादी अनशन पांचवें दिन भी जारी रहा।

महिलाएं पहुंची मंत्री के घर
युवा न्याय संघर्ष समिति से जुड़ी आंदोलनकारी महिलाएं आज गंगा विहार स्थित कैबिनेट मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक प्रेमचंद अग्रवाल के घर उनकी पत्नी को गांधीवादी तरीके से गुलाब देने पहुंची। लेकिन उनके घर पर नहीं होने की जानकारी देने और गेट न खोले से महिलाएं भड़क उठी। उन्होंने वहां जमकर नारेबाजी की और मौजूद पुलिसकर्मी को गुलाब देकर वापस लौट आई। महिलाओं के अनुसार मंत्री और उनकी पत्नी घर पर ही मौजूद थे।

मेयर से की महिलाओं ने मुलाकात
कैबिनेट मंत्री के घर से लौटने के बाद महिलाएं नगर निगम महापौर अनिता ममगाईं से मिलने उनके ऑफिस पहुंची। मेयर ने उनसे अपने कार्यालय में बातचीत की। महिलाओं के मुताबिक मेयर ने उनके प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री से मिलाने का आश्वासन दिया है। महिलाओं ने उन्हें भी गुलाब दिए। महिलाओं ने उनसे आंदोलनस्थल पर आकर अंकिता को श्रद्धांजलि देने का आग्रह भी किया।

इन संगठनों ने दिया समर्थन
युवा न्याय संघर्ष समिति को समर्थन देने के लिए कांग्रेस नेता प्रीतम िंसह, प्रतापनगर विधायक विक्रम सिंह नेगी के अलावा संस्कृत छात्र सेवा समिति और रेड राइडर्स साइकिल क्लब से जुड़े लोग भी पहुंचे। समिति के पूर्व अध्यक्ष डॉ. जनार्दन कैरवान ने अंकिता हत्याकांड को दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया। उन्होंने नीति नियंताओं मौन पर भी रोष जताया। उनके साथ अध्यक्ष सर्वेश तिवारी, प्रचार मंत्री शुभम नौटियाल, पूर्व अध्यक्ष पुरुषोत्तम कोठारी, सुरेश पंत, अभिषेक, शुभम सिलस्वाल आदि मौजूद थे।

इन्होंने दिया धरना
कांग्रेस नेता राजेन्द्र शाह, महानगर कार्यकारी अध्यक्ष सुधीर राय, पार्षद राकेश मियां, देवेंद्र प्रजापति, राधा रमोला, विजयलक्ष्मी शर्मा, हेमा रावत, दीपक जाटव, सुरेंद्र सिंह नेगी, पीताम्बर दत्त बूडाकोटी, लक्ष्मी बूडाकोटी, हरिराम वर्मा, रविंद्र प्रकाश भारद्वाज, जया डोभाल, चंद्रकांता जोशी, तारा कश्यप, विवेक तिवाड़ी, भगवती देवी चमोली, कुसुम जोशी, वीर रावत, सतेंद्र सिंह चौहान, प्रवीण जाटव, ओम रतूड़ी, धर्मचंद आनंद, लक्ष्मी, युद्धवीर सिंह चौहान, मनोज गुसाईं, जितार सिंह बिष्ट, सुमित बिष्ट, सरोपी देवी, भगवती प्रसाद सेमवाल, सुरज विश्नोई, सावित्री देवी, हिमांशु रावत, जगवीर सिंह नेगी, खुशाराम सिंह राणा, विजय सिंह बिष्ट, विजेंद्र नेगी, रेनू नेगी, विक्रम भंडारी, बीना देवी, शकुंतला देवी, राजेश सूद, विक्की, अशोक, कमलेश शर्मा, विक्की प्रजापति, प्रमीला जोशी, गुरवेंद्र सिंह, अरविन्द हटवाल राजेश शाह, नवीन पयाल, मदन शर्मा, महेश जोशी, गौरव यादव, अमित जाटव, इमरान सैफी, सौरभ वर्मा आदि।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button