अपराधऋषिकेश न्यूज

Crime: पुलिस की गिरफ्त में 2 ठग, 7 युवाओं से ठगे 44 लाख

Two Thugs Arrested: ऋषिकेश। कोतवाली पुलिस ने बेरोजगार युवाओं से ठगी के एक बड़े मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि उनका एक साथी फरार बताया गया है। उनपर सात युवाओं को रेलवे नौकरी दिलाने के बहाने 44 लाख रुपये ठगने का आरोप है।

कोतवाली पुलिस के मुताबिक जनपद पौड़ी गढ़वाल के सतपुली निवासी सोनू पुत्र हनुमंत सिंह ने 5 जून को दी तहरीर में बताया था कि ऋषिकेश में संदीप नामक शख्स ने उसे अपने दोस्त रविंद्र से मिलाकर रेलवे में नौकरी दिलाने की बात कही थी। जिसके बाद उसने और दोस्त मोहित ने आरोपियों को 14 लाख रुपये दिए। काफी वक्त तक जब नौकरी नहीं मिली, तो उन्हें ठगी का अहसास हुआ। जिसके बाद उन्होंने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

वहीं, इन्हीं आरोपियों के खिलाफ 15 अगस्त को त्रिलोकी दास और अन्य ने भी कोतवाली में केस दर्ज कराया था। त्रिलोकीनाथ से उनके छह बच्चों को रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर 30 लाख रुपये ठगे गए। जिसके बाद पुलिस ने मामले की पड़ताल शुरू की। बताया कि पुलिस टीमों ने रविवार को दो आरोपियों को हरिद्वार से गिरफ्तार किया। जबकि उनके एक अन्य साथी की तलाश जारी है।

बताया कि आरोपी संदीप कुमार पुत्र हरस्वरूप सिंह निवासी रानीपुर रोशनाबाद हरिद्वार मूल निवासी मोहल्ला मिसकियां थाना स्योहारा जिला बिजनौर उत्तर प्रदेश खुद को एफसीआई अफसर और रविंद्र सिंह पुत्र महिपाल सिंह निवासी रोशनाबाद हरिद्वार मूल निवासी रतनपुर थाना धामपुर बिजनौर उत्तर प्रदेश स्वयं को रेलवे का अधिकारी बताकर बेरोजगार युवाओं को फांसते थे। संदीप सिडकुल हरिद्वार में नौकरी करता है तो रविंद्र की रोशनाबाद में कास्मेटिक की दुकान है।

बता दें, कि इस मामले का खुलासा देहरादून में एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर द्वारा भी किया गया है। बताया कि आरोपियों के तीसरे साथी की तलाश के साथ ही अपराधिक इतिहास भी खंगाला जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button