उत्तराखंडऋषिकेश न्यूजयात्रा-पर्यटनसाहसिक

नए साल में सैलानियों से गुलजार रही मोतीचूर रेंज

राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क प्रशासन ने कमाए करीब 43 हजार रुपये

Wildlife Tourism : रायवाला (चित्रवीर क्षेत्री)। राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क (Rajaji Tiger Reserve Park) अंतर्गत की मोतीचूर रेंज नए साल में सैलानियों से गुलजार रही। तीन दिनों में पार्क प्रशासन ने करीब 43 हजार रुपये की कमाई की। हालांकि सफारी वाहनों की कमी के चलते सैकड़ों पर्यटकों को मायूस होकर लौटना भी पड़ा।

नए साल के स्वागत को राजाजी पार्क प्रशासन ने सैलानियों के स्वागत के लिए खास तैयारियां की थी। उत्तराखंड के विभिन्न शहरों के अलावा दिल्ली, हरियाणा, यूपी और पंजाब से सैलानी 31 दिसंबर से ही वन्यजीवों के दीदार को पहुंचने लगे थे। 2 जनवरी को सैलानियों का तांता लगा रहा। इस अंतराल में साढ़े 4 सौ से अधिक पर्यटकों ने मोतीचूर रेंज के गेट से पार्क में इंट्री की। इस दौरान उन्होंने हाथी, बाघ, गुलदर, हिरन, नील गाय समेत विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवों और पक्षियों का दीदार किया।

राजाजी सफारी वेलफेयर एसोसिशन के सचिव शशि रणाकोटी ने बताया कि मोतीचूर रेंज में आमतौर पर सैलानियों की आमद कम ही रहती थी, लेकिन कोरोनाकाल के बाद इस बार 31 दिसबर से 2 जनवरी तक बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचे। बताया कि सैकड़ों सैलानियों को सफारी वाहनों की कमी के कारण वापस भी लौटना पड़ा।

रेंज अधिकारी अलोकी ने बताया कि राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क प्रशासन को तीन दिनों में 42,931 रुपये की आमदनी हुई है। बताया कि नए साल में पार्क प्रशासन ने सैलानियों की आमद को देखते हुए सभी तैयारियां की थी। बताया कि सैलानियों की सुरक्षा और सुविधाओं के दौरान डिप्टी रेंजर एसपी जखमोला, देवी प्रसाद सुयाल, गेट प्रभारी रणजीत सिंह रावत, दिनेश बिष्ट, वन दरोगा मनोज चौहान, नवीन ध्यानी आदि ने सहयोग किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button