ऋषिकेश न्यूजसियासत

मंत्री गणेश जोशी के बयान पर कांग्रेसी भड़के, पुतले फूंके

ऋषिकेश। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी और स्व. राजीव गांधी की शहादत को हादसा बताए जाने के कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी के विवादित बयान पर कांग्रेस में गुस्सा भड़क गया। विरोध में कांग्रेस की महानगर, ब्लॉक और युवा इकाई ने अलग-अलग जगहों पर मंत्री गणेश जोशी का पुतला फूंककर अपना रोष जाहिर किया।

बुधवार को रेलवे रोड स्थित कांग्रेस भवन पर कार्यकर्ताओं ने काबीना मंत्री गणेश जोशी के बयान को शर्मनाक बताते हुए नारेबाजी के बीच उनका पुतला दहन किया। उनका कहना था कि भाजपा नेताओं में देश के लिए बलिदान देने वालों के प्रति सम्मान नहीं बचा है। भाजपा कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा से भयभीत हो चुकी है। जिसके कारण वह अनर्गल बयानबाजी पर उतर आए हैं।

प्रदर्शन में महानगर अध्यक्ष राकेश सिंह, प्रदेश सचिव मदन मोहन शर्मा, एआईसीसी सदस्य जयेन्द्र रमोला, महंत विनय सारस्वत, पार्षद देवेंद्र प्रजापति, भगवान सिंह पंवार, दीपक जाटव, प्रदीप जैन, राजेंद्र कोठारी, मदन सिंह, विक्रम भंडारी, सरोज देवराडी, राजकुमार तलवार, हरि सिंह नेगी, अमित सरीन, उमा ओबरॉय, सावित्री देवी आदि शामिल थे।

वहीं, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने श्यामपुर बाईपास में काबीना मंत्री गणेश जोशी का पुतला फूंका। इस दौरान कांग्रेसजनों ने जोशी से सार्वजनिक माफी मांगने की मांग की। मौके पर ब्लॉक अध्यक्ष विजयपाल सिंह रावत, प्रदेश सचिव मनोज गुसाईं, देवी प्रसाद व्यास, धर्मानंद लखेड़ा, रामप्रसाद गैरोला, रामस्वरूप रणाकोटी, गब्बर सिंह कैंतूरा, सनमोहन सिंह रावत, कुलदीप सिंह असवाल, देवेंद्र दत्त, सूरज भट्ट, बलदेव सिंह नेगी, श्यामलाल, रतनदेव रियाल, टीटू राणा, नवीन देशवाल, भीम दास, शंभू शंकर, शोभा भट्ट, शोभा बहुगुणा, निर्मला देवी आदि शामिल थे।

उधर, युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी मंत्री गणेश जोशी का पुतला दहन कर उनके विवादित बयान पर विरोध जताया। युकां कार्यकर्ताओं ने जोशी पर गंदी राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने जोशी को बर्खास्त किए जाने की मांग की है। प्रदर्शन में युकां विधानसभा अध्यक्ष गौरव राणा, प्रदेश महासचिव इमरान सैफी, सौरभ वर्मा, जिलाध्यक्ष सन्नी प्रजापति, जितेंद्रपाल पाटी, गौरव झा, देवेंद्र बोरा, कार्तिक, आशीष, विकास सेमवाल, वीरेंद्र, विपिन, हिमांशु कश्यप, अमन भारद्वाज, आदित्य झा, आशीष, रोहित, विनोद, रितिक, हर्षित भट्ट, विनायक आदि शामिल थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button