उत्तराखंडराजकाज

समस्याओं का निस्तारण कर जनता को भी दें जानकारीः DM

जनसुनवाई कार्यक्रम में आई 84 शिकायतें, अधिकारियों को दिए निर्देश

Public Hearing : देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम में 84 शिकायतें प्राप्त हुई। जिसमें भूमि, पेंशन, सिंचाई नहर, अधिगृहित भूमि व भवन स्वामियों को मुआवजा, शिक्षा, भूमि बंटवारा, भरण-पोषण आदि शिकायतें शामिल थीं।

सोमवार को ऋषिपर्णा सभागार कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी ने फरियादियों की समस्याओं को सुनने के बाद अधिकारियों को निस्तारण निर्देश दिए। राजस्व विभाग, नगर निगम और एमडीडीए की भूमि सम्बन्धी शिकायतों पर सम्बन्धित विभागों को मौका मुआवना कर निस्तारण और शिकायतकर्ता को जानकारी देने को कहा।

जनसुनवाई में हरियावाला धौलास खास के ग्रामीणों की अनाधिकृत प्लाटिंग की शिकायत की। जिसपर डीएम ने एमडीडीए को मौका मुआवना कर आख्या देने को कहा। गलज्वाड़ी के की ग्राम समाज की भूमि पर अतिक्रमण पर कार्यवाही के लिए एसडीएम सदर को निर्देश दिए गए। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सहाकारी समिति डोईवाला की कालूवाला में नहर क्षतिग्रस्त की शिकायत पर कार्यवाही को कहा।

शिकायतकर्ता गोपाल प्रसाद ने एमफील्ड ग्रान्ट खसरा नम्बर पुराना 2534/नया 4858 पर कब्जे की शिकायत और मिस्सरवाला पट्टी में विकासनगर अन्तर्गत वादग्रस्त भूमि के क्रय-विक्रय पर रोक लगाने की शिकायत पर उप जिलाधिकारी विकासनगर को जांच एवं कार्यवाही के निर्देश दिए। केदारवाला में 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला द्वारा उनकी सम्पति को धोखे से बिना किसी लेनदेन के अपने नाम किए जाने नगर निगम को जांच के निर्देश दिए।

वहीं, स्टाम्प विक्रेता लाइसेंस हेतु आवेदन पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। आस्था एनक्लेव निवासी कविता द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान पति की मृत्यु के बाद बच्चों की पढ़ाई केन्द्र विद्यालय में निशुल्क करवाए जाने के अनुरोध पर मुख्य शिक्षा अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए।

जनसुनवाई में मुख्य विकास अधिकारी झरना कमठान, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के.के मिश्रा, एसडीएम सदर नरेश चन्द्र दुर्गापाल, मसूरी शैलेन्द्र सिंह नेगी, परियोजना निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण आर.सी तिवारी, जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सजंय जैन, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी विद्याधर कापड़ी, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, मनीष तिवारी आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button