देहरादूनराजकाज

Dehradun: जनसुनवाई में जमीनों के मामलों की भरमार

जिलाधिकारी सोनिका ने दिए संबंधित अधिकारियों को कार्यवाही के निर्देश

Public Hearing Dehradun : देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार कलेक्ट्रेट में आयोजित जनसुनवाई में 133 शिकायतें दर्ज हुई। अधिकतर शिकायतें डीएम ने उपजिलाधिकारियों को जांच मामलों में पटवारी की रिपोर्ट पर आख्या भेजने के निर्देश दिए। साथ ही कैम्प रोस्टरवार कार्यक्रम तय कर धारा 41 के मामले निपटाने को भी कहा।

सोमवार को आयोजित जनसुनवाई में भूमि विवाद संबंधी मामलों के अलावा आपसी विवाद, सड़क निर्माण में अनियमितता, सरकारी भूमि पर कब्जा, अवैध प्लाटिंग, भरण-पोषण, मामला हस्तांतरण, पति द्वारा दूसरी शादी समेत नगर निगम, जल संस्थान, पीएमजीएसवाई, सिंचाई, रोजगार दिलाने, समाज कल्याण, एमडीडीए, पुलिस शिकायतें आई।

ग्राम हसनपुर तहसील विकासनगर के शिकायतकर्ता ने उनकी जमीन पर अवैध कब्जे के दाखिल खारिज रुकवाने अनुरोध किया। पुरवीय लाइन सेन्ट्रल निवासी ने शिकायत की कि उनकी सम्पत्ति को परिजन बेचने की फिराक में हैं, जिस रोक लगाने की मांग की गई। डीएम सोनिका ने एसडीएम विकासनगर को कार्यवाही के निर्देश दिए।

इसी प्रकार तहसील सदर अन्तर्गत भूमि सम्बन्धी शिकायत पर तहसीलदार सदर को कार्यवाही के निर्देश दिए गए। सृष्टि विहार निवासी ने शिकायत की कि पड़ोसियों द्वारा सड़कों पर पानी बहाया जा रहा है जो कि एक स्थान पर उनके घर के सामने इकठ्ठा हो जाता है, जिससे बीमारियों फैलने की संभावना बनी रहती है। बीते वर्ष में डेंगू महामारी के दौरान उनके माता-पिता और नवजात बच्चे को डेंगू हो गया था। जिलाधिकारी ने नगर निगम अधिकारियों को जांच कर कार्यवाही के निर्देश दिए।

जनसुनवाई में मुख्य विकास अधिकारी झरना कमठान, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामजीशरण शर्मा, अपर मुख्य नगर अधिकारी नगर निगम बीर सिंह बुधियाल, नगर मजिस्ट्रेट प्रत्युष सिहं, एसडीएम सदर हरगिरी गोस्वामी, एसडीएम मुख्यालय शालिनी नेगी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी राजेन्द्र विराटिया, मुख्य कृषि अधिकारी लतिका सिंह, एडीएसओ विवेक शाह, जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट समेत संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button