उत्तराखंडदेश-विदेश

उत्तराखंड को मिले THDC की 25 प्रतिशत हिस्सेदारीः धामी

• प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष शिष्टाचार भेंट के दौरान उठाया मामला

• सीएम धामी ने पीएम से अन्य मसलों पर भी किया स्वीकृति देने का अनुरोध

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गुरुवार को शिष्टाचार भेंट के दौरान टीएचडीसी की 25 प्रतिशत हिस्सेदारी उत्तराखंड को स्थानांतरित करने का आग्रह किया। जो कि अभी तक उत्तर प्रदेश को मिल रही है। धामी ने पीएम से जीएसटी क्षतिपूर्ति अवधि बढ़ाने, राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल शिक्षा एवं शोध संस्थान की शाखा स्थापित करने, ‘मानस खंड मन्दिर माला मिशन’ को स्वीकृति देने और पिथौरागढ़ एयरस्ट्रिप से हवाई सेवाएं संचालित करने का अनुरोध भी किया।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि टीएचडीसी इंडिया लि. में भारत सरकार की 75 प्रतिशत और उत्तर प्रदेश की 25 प्रतिशत हिस्सेदारी है। उत्तर प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2000 की धारा 47 (3) के अनुसार उत्तर प्रदेश द्वारा विभाजन की तिथि तक उत्तराखंड में स्थित टीएचडीसी इंडिया लि. में किए गए पूंजीगत निवेश के आधार पर इसे राज्य को हस्तांतरित होना चाहिए।

सीएम ने कहा कि बताया कि टीएचडीसी की लगभग 70 प्रतिशत परियोजनाएं उत्तराखंड में है। जिनके चलते पुनर्वास, कानून व्यवस्था और अन्य सामाजिक एवं पर्यावरण सम्बन्धी चुनौतियों का सामना उत्तराखंड को ही करना पड़ता है। बताया कि वर्ष 2012 में उत्तराखंड द्वारा अनुच्छेद-131 के अन्तर्गत टीएचडीसी इंडिया लि. में उत्तर प्रदेश के स्थान पर उत्तराखंड की 25 प्रतिशत हिस्सेदारी हेतु मूल वाद संख्या सर्वोच्च न्यायालय में दायर किया गया था, जो विचाराधीन है।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से टीएचडीसी इंडिया लि. की इक्विटी शेयर धारिता में उत्तर प्रदेश के 25 प्रतिशत अंशधारिता को उत्तराखंड राज्य को स्थानान्तरित करने में केंद्र सरकार से सहयोग का अनुरोध किया।

राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल शिक्षा एवं शोध संस्थान की शाखा की स्थापना
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड देश के फार्मास्यूटिकल हब के रूप में उभर रहा है। भारत में दवाओं के कुल उपभोग होने वाली दवाओं में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी राज्य में स्थापित दवा कंपनियां की है। देहरादून, हरिद्वार और उधमसिंहनगर स्थित सिडकुलों में 300 से अधिक फार्मास्यूटिकल कंपनियां 1 लाख से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान कर रहीं है। इस लिहाजा से राज्य में राष्ट्रीय फार्मास्यूटिकल शिक्षा एवं शोध संस्थान की शाखा स्थापित की जानी चाहिए।

सीमांत से हवाई सेवाओं का संचालन
धामी ने पीएम को बताया कि सीमान्त जनपद पिथौरागढ़ में एयरस्ट्रिप से हवाई सेवा संचालित करने के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। ऐसे में यहां से हवाई सेवाओं के जल्द संचालन के लिए निर्देशित किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने पीएम से राज्य के सीमित आर्थिक संसाधनों के मद्देनजर क्षतिपूर्ति की अवधि जून माह के पश्चात भी बढ़ाने का अनुरोध किया।

मानसखंड मंदिर माला मिशन
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पीएम नरेंद्र मोदी से बदरी-केदार की तरह कुमांऊ मंडल के पौराणिक मन्दिरों को जोड़े जाने के उद्देश्य से “मानस खण्ड मन्दिर माला मिशन“ की स्वीकृति दिये जाने की आग्रह भी किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button