चारधामदेहरादूनयात्रा-पर्यटन

Char Dham Yatra: कपाट खुलने के दिन श्रद्धालुओं पर होगी पुष्पवर्षा

• मुख्यमंत्री धामी ने मुख्य सेवक भंडारे के लिए युवाओं की टीम को किया रवाना

Char Dham Yatra 2024 : देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को उत्तराखण्ड सदन नई दिल्ली से वर्चुअल रूप से बाबा केदारनाथ डोली यात्रा के साथ चलने वाले मुख्य सेवक के भंडारा कार्यक्रम के 300 सेवादारों की टीम को हरी झंडी दिखाकर देहरादून से रवाना किया। कहा कि चारों धामों के कपाट खुलने के दिन हेलीकॉप्टर से श्रद्धालुओं पर पुष्प् वर्षा की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 मई से चारधाम यात्रा प्रारम्भ होने वाली है, जो हमारे लिये उत्सव का वातावरण तैयार करती है। साथ ही हम सब चारधाम यात्रा जल्दी से जल्दी प्रारम्भ हो, इसका इन्तजार बेसब्री से करते हैं। चारधाम यात्रा का एक बहुत बड़ा उत्सव पूरे उत्तराखण्ड, देशवासियों, भक्तगणों, श्रद्धालुओं, तीर्थयात्रियों के लिए होता है। इस अवसर पर हम सब लोग अपने-अपने तरीके से इस पुण्य में सम्मिलित होते हैं। इस पुण्य में भंडारे के आयोजन की अपनी अलग ही भूमिका है। जिसके लिये उन्होंने इस आयोजन में शामिल टीम लीडर हिमांशु चमोली सहित महाराष्ट्र, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड आदि के युवाओं को शुभकामना दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि चारधाम यात्रा सुगम और सुरक्षित हो इसके लिये पेयजल, परिवहन, विद्युत, स्वास्थ्य, आपदा प्रबन्धन, पुलिस, यातायात, लोक निर्माण आदि विभागों की समीक्षा की है। अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि यात्रा की सभी तैयारियां 10 मई तक हर हाल में पूरी हों, जिससे यहां आये श्रद्धालु अच्छा सन्देश लेकर जायें।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्ष श्रद्धालुओं की संख्या निरन्तर बढ़ रही है। इस बार भी यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में काफी उत्साह है। कहा कि जिस दिन धामों के कपाट खुलेंगे, उस दिन हेलीकाप्टर से पुष्पवर्षा की जाएगी। कहा कि उत्तराखण्ड मेजवान है, इसलिए हमारा दायित्व बनता है कि पिछले वर्ष के अनुभवों से सीख लेकर इस यात्रा को और अच्छा करें।

बता दें कि देवभूमि उत्तराखंड के पावन हिमालयी क्षेत्रों में चारों धाम विश्वभर के सनातन प्रेमियों की आस्था के केंद्र हैं। कपाट खुलने से पहले भगवान केदारनाथ की पंचमुखी भोगमूर्ति चल विग्रह उत्सव डोली यात्रा पंचकेदार गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ से प्रस्थान करती है। इस दौरान उत्सव डोली यात्रा में श्रद्धालुओं के भोजन आदि की व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की प्रेरणा से प्रदेश के युवाओं द्वारा भंडारे का आयोजन किया जाता है।

इस साल युवाओं द्वारा 05 मई से 10 मई तक ’मुख्य सेवक का भंडारा कार्यक्रम’ का आयोजन करने जा रहा है। भंडारे को उखीमठ, गुप्तकाशी, फाटा, गौरीकुंड और केदारनाथ में सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। भंडारे के दौरान साफ-सफाई और पर्यावरण का विशेष ध्यान रखा जायेगा। कपाट खुलने के दिन मंदिर प्रांगण में भजन गायक कलाकारों द्वारा प्रस्तुतियां भी दी जाएंगी।

इस अवसर पर संस्कृति, साहित्य, कला परिषद उपाध्यक्ष मधु भट्ट, केके मदान, नवीन पिरशाली, दिनेश त्रिपाठी, मनीष सजवाण, सुबोध आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button